लव जेहादी सिकंदर के गिरफ्तार होने से हुंडी बाजार में हड़कंप:

सतना: नाबालिग लड़की से दुष्कर्म और उसे ब्लैकमेल करने के मामले में पहली बार पुलिसिया शिकंजे में फंसे कांग्रेस नेता समीर उर्फ सिकंदर खान की गिरफ्तारी से बाजार में भी हड़कंप मच गया है। सलाखों के पीछे सिकंदर पहुंचा है लेकिन तोते कई नामी व्यापारियों के उड़ गए हैं।
सूत्रों के मुताबिक नाबालिग का अश्लील वीडियो बना कर दो साल तक उसका दैहिक शोषण करने और ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार किए गए शहर के चर्चित प्ले बॉय सिकंदर उर्फ समीर उर्फ अतीक मंसूरी ब्याज पर रकम चलाने का भी धंधा करता था। उसने कई व्यापारियों को पहले तो सीधे ब्याज पर रकम देने का तरीका ही अपना रखा था लेकिन बाद में उसने धंधे का तरीका भी बदला और उसे विस्तार भी दिया। उसने सूदखोरी के जरिये भी तमाम संपत्ति अर्जित की थी। कई लोगों के प्लाट-मकान भी अपने नाम करा लिए थे। पुष्पराज कॉलोनी निवासी एक दवा व्यापारी तो आत्महत्या करने को तैयार था। सिकंदर के बाजार में रहे साइबर कैफे के बाजू में उसकी दुकान थी एउसने सिकंदर से ब्याज पर रकम उधार ली थी। खबरों के मुताबिक इसी सूदखोरी के बूते उसने चाणक्यपुरी के जिम में पार्टनरशिप भी हथियाई थी।


सूत्र बताते हैं कि सिकंदर हवाला के खेल का भी खिलाड़ी था। हवाला और हुंडी कारोबार में भी उसके कनेक्शन थे। यह धंधा वह अकेले नही करता था बल्कि इसमें उसने अपने साथ सतना शहर के कई पुराने खिलाडिय़ों का साथ कर रखा था। सिकंदर ने शहर के एक नामी हुंडी दलाल के बेटे के साथ मिलकर हवाला और हुंडी का काम शुरू किया था। वह अपने पैसे इसी हुंडी और हवाला कारोबारी के जरिये बाजार में देता था। गुजराती परिवार के सदस्य अपने साथी के साथ मिलकर सिकंदर लोकल बाजार में पैसे हुंडी पर देता था और बाहर हवाला के जरिये रकम ट्रांसफर कराता था।
सिकंदर का दिल्ली कनेक्शन!
सूत्र बताते हैं कि सिकंदर और गुजराती समाज से जुड़े उसके पार्टनर ने हवाला कारोबार के संचालन के लिए दिल्ली में भी अपना एक आदमी लगा रखा था। ये लगातार उसके संपर्क में रहते थे। कई बार दोनों दिल्ली आते-जाते थे लेकिन एक ही दिन एक ही ट्रेन से यात्रा करने के बावजूद कभी एक साथ रिजर्वेशन नही कराते थे। इनकी टिकट भी अलग होती थीं और ट्रेन में सीट भी अलग-अलग होती थीं। दिल्ली यात्रा के बारे में लोगों को यही बताया जाता था कि घूमने और शॉपिंग करने जा रहे हैं।


हवाला का भी मामले में था संदिग्ध
सिकन्दर का पार्टनर पहले भी कई बार सुर्खियों में रह चुका है। उसका और उसके पिता का नाम हुंडी और हवाला के मामले में तब भी खूब उछला था जब भरहुतनगर में रहने वाले बिजली ठेकेदार अग्रवाल के यहां डकैती पड़ी थी। उस वक्त बीमारी बचाव का बहाना बनी और फिर रही-सही मदद तब के पुलिस अफसरों ने रहमत-रियायत बरसा कर पूरी कर दी थी। सूत्र बताते हैं कि इस हुंडी दलाल और हवाला कारोबारी के जरिये बाजार के कई व्यापारियों-अधिकारियों और नेताओं का काला धन बाजार में खपता है। लोक सभा चुनाव के दौरान इसके यहां छापा भी पड़ा था। सिकंदर और उसके पार्टनर की शान शौकत, मेहमान नवाजी और हर किस्म के शौक पूरे करने-कराने की हैसियत ने हमेशा उन्हें पावरफुल लोगों का संरक्षण हासिल करने में मदद की है। सूत्रों की मानें तो डकैती के बाद हुंडी मामले में सिकंदर का पार्टनर इसी की बदौलत बचा था तो गैंगरेप मामले में रडार पर आने के बाद सिकंदर खुद भी दौलत के बूते ही खुद को बेदाग निकालने में कामयाब हुआ था। लेकिन अब जब सिकंदर सलाखों के पीछे पहुंच गया है तो उसके हवाला कारोबारी पार्टनर के होश उड़ गए हैं। वह फिर छटपटाने लगा है और अपने कनेक्शनों के तार हिलाने-डुलाने लगा है। पैसा फेंककर तमाशा देखने वाले लोगों में शुमार सिकंदर के इस पार्टनर को उसके आका मोटी रकम खर्च करा कर राहत दिलाने में कामयाब हो जाएं तो यह भी कोई नामुमकिन नही है। जानकारों की मानें तो पुलिस अगर सिकंदर के रहस्यमयी तिलिस्म को वाकई तोडऩा चाहती है तो उसे सिकंदर के हवाला और हुंडी नेटवर्क को भी खंगालना होगा। यदि पुलिस ऐसा कर पाई तो उसे उस रैकेट के बारे में भी कई अहम मालूमात हासिल हो सकती हैं जिसकी तलाश के लिए एसपी ने एसआईटी गठित की है। साथ ही कई चेहरे भी बेनकाब हो सकेंगे जो सफेदपोश बनकर घूम रहे हैं।

नाबालिग से दोस्ती कर हवस का शिकार बनाने वाला कांग्रेस नेता सिकंदर गया जेल,कई मामले विभिन्न थानों में हैं दर्ज, बेनकाब हो सकते हैं कई सफेदपोश
दोस्ती और शादी का वादा फिर परिजनों को जान से मार देने की धमकी देकर कर नाबालिग को हवस का शिकार बनाकर 2 साल तक दैहिक शोषण करने वाले कांंग्रेस के कथित कार्यकर्ता आरोपी गिनी उर्फ अतीक मंसूरी उर्फ समीर उर्फ सिकंदर की गिरफ्तारी के बाद प्रदेश की राजनीति में सतना से भोपाल तक उबाल आ गया। इसी बीच जिला कोर्ट में पाक्सो एक्ट की स्पेशल कोर्ट में कोलगवां पुलिस ने आरोपी को पेश कर 2 दिन की रिमांड मांगी। विशेष अदालत ने पुलिस की मांग मंजूर कर दुष्कर्म और ब्लैकमेल के आरोपी को 14 सितम्बर की दोपहर 12 बजे तक की पुलिस रिमांड में भेज दिया है।


लिखित रिपोर्ट पर दर्ज हुआ पाक्सो और दुष्कर्म का प्रकरण
कोलगवां थाना अन्र्तगत सिंधी कैम्प निवासी 16वर्षीय किशोरी की लिखित शिकायत पर 11 सितम्बर को रात करीव 11 बजे आरोपी के खिलाफ थाना पुलिस ने आईपीसी के सेक्सन 376(ध) (ढ), 323,506 और 5/6 पॉक्सो अधिनियम के तहत कायमी की। थाना पुलिस ने प्रकरण दर्ज किए जाने के 24 घंटे के अन्दर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। 23 मार्च 2018 से 6 जून 2020 के बीच लगातार धमका कर आरोपी ने पीडि़ता का दैहिक शोषण किया और नजीराबाद स्थित अपने फार्म हाउस में ले जाकर पीडि़ता के साथ जबरजस्ती करता था। आरोपी के चुगुल में फंसी नाबालिग पीडि़ता ने घटना की जानकारी अपने परिजनों को देकर शुक्रवार को थाना पहुंच कर आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दिया।


ब्लैकमेल और ब्याज वसूली का पूरा नेटवर्क
मामूली शटर की दुकान से जिम और करोड़ोंं के फार्म हाउस तक संपत्ति की मिल्कियत बनाने वाले आरोपी के खिलाफ ब्लैकमेल कर दैहिक शोषण करने का यह पहला प्रकरण है जिसमें रिपोर्ट के बाद प्रकरण दर्ज किया है। बहुत से ऐसे मामले है जिनमें लोक-लाज के भय से पीडि़तो ने शिकायत तक नहीं की आरोपी को ब्लैकमेल के करोड़ो रुपए दे दिए। इसके अलावा के आरोपी के खिलाफ शहर के चर्चित मामले में भी शामिल होने के आरोप लग रहे है।


उधर एसआईटी गठित कर एसपी ने की अपील
जिले के पुलिस कप्तान रियाज इकबाल ने इस घटना क्रम के बाद मामले की जांच के लिए सीएसपी विजय प्रताप सिंह के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया है। इसके साथ ही एसपी श्री इकबाल ने अपील जारी की है कि यदि इस अपराधी अतीक मंसूरी उर्फसमीर पिता निजामुद्दीन खान 40 वर्ष निवासी कंपनी बागए हाल नजीराबाद कोतवाली के बारे में किसी के पास कोई सूचना, कोई शिकायत हो या कोई इसके ब्लैकमेलिंग का शिकार हुआ हो, तो वह निर्भय होकर सामने आए और उसकी शिकायत करें। यह आश्वासन दिया है कि दी गई जानकारी को गोपनीय रखा जाएगा और सतना पुलिस द्वारा ऐसे अपराधियों के विरुद्ध में कड़ी से कड़ी और कार्यवाई की जाएंगी। देर शाम सीएसपी विजय प्रताप सिंह के नेतृत्व में गठित एसआईटी ने कार्रवाई करते हुए आरोपी का सायबर कैफे सील कर दिया।


डीजी अभियोजन के निर्देशन में अभियोजन पैरवी में मुस्तैद
संचालक लोक अभियोजन पुरुषोत्तम शर्मा के मार्गदर्शन में जिले के अभियोजन विभाग ने भी पैरवी का मोर्चा सम्हाल लिया है। रीवा संभाग के अभियोजन प्रवक्ता फखरुद्दीन ने बताया कि शनिवार को राज्य सामन्वयक महिला अपराध के निर्देशन पर डीपीओ आरपी सिंह और एडीपीओ की टीम ने वीसी के माध्यम से पास्को एक्ट की विशेष कोर्ट में आरोपी के रिमांड मांग के सर्मथन में दलील दी। अदालत को बताया कि आरोपी से जब्त समग्री के संबंध में और प्रकरण से संबंधित पूछताछ होनी है। आरोपी के नेटवर्क के बारे में भी जानकारी एकत्र करना है। डीपीओ श्री सिंह ने बताया कि महिला अपराध के प्रकरणो में गंभीरता के साथ कार्रवाई का निदेश डीजी अभियोजन ने दिया है। ऐसे प्रकरणो की डे-टू-डे जानकारी जिला समन्वयक के माध्यम से राज्य संमन्वयक को देने का निर्देश हैए ताकि अपराधी को उसके किए गए अपराध की सजा दिलाई जा सके।


लव जेहाद का सनसनीखेज खुलासा
सतना में लव जेहाद के सनसनीखेज मामले का खुलासा होने के बाद गिरफ्त में आये मुस्लिम युवक के खिलाफ सतना पुलिस ने सख्त एक्शन लेना शुरू कर दिया है। उसके खिलाफ नाबालिग कें यौन शोषण के मामले में पॉक्सो एक्ट की धाराओं के साथ तो अपराध दर्ज किया ही गया है, रासुका लगाने की सिफारिश भी कर दी गई है। आरोपी के गिरफ्त में आने के बाद ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए पुलिस ने उसके साइबर कैफे, फार्म हाउस को सील कर दिया है और भारी मात्रा में दस्तावेज, कैमरे, डीवीआर जैसी सामग्रियां जब्त कर ली हैं।


आरोपी को लेकर उसके ठिकानों पर पहुंची पुलिस शुक्रवार को हिरासत में लिए गए दुष्कर्मी और ब्लैकमेलर कांग्रेस नेता समीर खान उर्फ सिकंदर उर्फ अतीक मंसूरी को रिमांड में लेने के बाद पुलिस ने उसके ठिकानों पर दबिश दी। पुलिस की टीम सीएसपी विजय सिंह और कोलगवां तथा सिटी कोतवाली टीआई के साथ आरोपी के प्रताप होटल के नीचे रीवा रोड स्थित साइबर कैफे में पहुंची। आरोपी को साथ लेकर गई पुलिस ने कैफे से तमाम दस्तावेज, कम्प्यूटर, डीवीआर समेत भारी मात्रा में सामान जब्त किया और कैफे को सील कर दिया। इस दौरान पुलिस ने नजीराबाद उसके फार्म हाउस पर भी दबिश दी। इस फार्म हाउस का इस्तेमाल वह अपनी और अपने खास साथियों, खैरख्वाहों की अय्याशी के लिए करता था लिहाजा तलाशी यहां भी ली गई और सामान जब्त कर लिया गया। पुलिस ने फार्म हाउस को भी सील कर दिया है।
रासुका लगाने, आम्र्स लाइसेंस निरस्त करने एसपी ने की कलेक्टर से सिफारिश
सियासी रंग लेते जा रहे लव जेहाद से जुड़े इस संगीन मामले में खासी दिलचस्पी ले रहे एसपी ने आरोपी के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानूनन यानी रासुका की कार्रवाई की सिफारिश की है। पुलिस ने बताया कि आरोपी के विरुद्ध धारा 376 (2आई), 376 (2एन), 323, 506 भादवि, 5/6 पॉक्सो अधिनियम के तहत अपराध क्रमांक 1004/20 दर्ज किया गया है । इसके अलावा एसपी रियाज इकबाल ने उसके आपराधिक रिकॉर्ड को देखते हुए उसके खिलाफ रासुका की कार्रवाई करने की सिफारिश कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट को प्रेषित किया गया है। आरोपी ने अपनी राजनैतिक पहुंच का इस्तेमाल कर शस्त्र लाइसेंस भी हासिल कर लिया था लिहाजा उसे भी निरस्त करने का प्रस्ताव जिला मजिस्ट्रेट को भेजा गया है।


एसपी ने की अपील – निर्भय होकर दें जानकारी
पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने जनता से आरोपी गिनी उर्फ अतीक मंसूरी उर्फ समीर खान उर्फ सिकंदर वल्द निजामुद्दीन खान 40 निवासी कंपनी बाग हाल निवासी नजीराबाद के विरुद्ध जानकारी देने की अपील की है। एसपी ने कहा जो भी लोग आरोपी के बारे में मालूमात रखते हों, उसके द्वारा शोषण का शिकार बनाये गए हों, जिन भी महिलाओं को आरोपी ने ब्लैकमेल किया हो, वे निर्भय हो कर पुलिस को जानकारी दें। अपने बयान दर्ज कराने, जानकारी देने वाले का नाम गोपनीय रखा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here