राहुल ठाकुर की हत्या का आरोपी6 महीने बाद गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस के मुताबिक हिंसा के आरोपियों में शामिल मुस्तकीम सैफी ने 24 फरवरी के दिन मुस्तफाबाद में राहुल ठाकुर नाम के युवक की गोली मारकर हत्या की थी. इस आरोपी की तलाश में पुलिस को करीब 6 महीने लग गए.

कांस्टेबल रतनलाल की मौत के 2 अपराधी भगोड़ा घोषित:

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने दिल्ली हिंसा के एक आरोपी को 6 महीने के बाद मुस्तफाबाद इलाके से गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्त में आए आरोपी का नाम मुस्तकीम सैफी है. पुलिस ने मुस्तकीम सैफी की गिरफ्तारी पर एक लाख का इनाम घोषित कर रखा था.

इस बीच दिल्ली की एक अदालत ने फरवरी में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा मामले में हेड कांस्टेबल रतन लाल की मौत से जुड़े एक मामले में 2 अभियुक्तों को ‘भगोड़ा अपराधी’  घोषित कर दिया. कोर्ट का मानना है कि दोनों आरोपी जानबूझकर अदालत (यू/एस 82 सीआरपीसी की सेवा) में उपस्थित होने से बच रहे हैं. 

24 फरवरी को मारी थी गोली:

दिल्ली पुलिस के मुताबिक हिंसा के आरोपियों में शामिल मुस्तकीम सैफी ने 24 फरवरी के दिन मुस्तफाबाद में राहुल ठाकुर नाम के युवक की गोली मारकर हत्या की थी.

पुलिस के मुताबिक उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा के दौरान 24 फरवरी को राजधानी पब्लिक स्कूल के पास एक युवक को गोली मार दी गई थी. युवक को पुलिस की टीम हॉस्पिटल लेकर गई, जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था।

युवक का नाम राहुल ठाकुर था. पुलिस ने इस मामले में हत्या की एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की. पिछले 6 महीनों से पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई थी. इस दौरान पुलिस को एक वीडियो मिला जिसके जरिए उसे यह पता लगा कि वीडियो में जो शख्स नजर आ रहा है तमंचे के साथ वही शख्स राहुल ठाकुर का कातिल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here