एसडीएम सिटी का पत्र कृषि उपज मंडी में दबा-

सतनाः टोटल लाॅकडाउन के दौरान कृशि उपज मंडी सतना के अंतर्गत आने वाली बिरसिंहपुर, रामपुर, कोठी और जैतवारा हाट-बाजार में करीब 34 हजार 893 क्विंटल अनाज की खरीदी की गई।

जिले में किसानों से सौदा पत्रक के जरिए अनाज की खरीदी के मामले को लेकर एसडीएम के द्वारा मांगी गई जानकारी के लिए भेजे गए पत्र को कृशि उपज मंडी प्रषासन द्वारा दबा दिया गया है।

मामले की षिकायत आरटीआई कार्यकर्ता अतुल सेंगर के द्वारा कलेक्टर अजय कटेसरिया से की गई, जिसमें उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण महामारी से बचाव के लिए जिले में 144 धारा लागू होने के दौरान कृशि उपज मंडी सतना के कुछ व्यापारियों के द्वारा महामारियों नियमों का उल्लघंन करते हुये अनाज की खरीदी की थी।
अतुल सेंगर ने धारा 144 के उल्लघंन करने पर व्यापारियों और कृशि उपज मंडी के अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाने की मांग की थी।
शिकायत के बाद कलेक्टर अजय कटेसरिया ने मामले की जांच के लिए एसडीएम सिटी राजेष साही को आदेष दिए थे।
सौदा पत्रक के द्वारा कृशि उपज मंडी सतना के अंतर्गत खरीदी करने वाले व्यापारियों से जुड़े सभी दस्तावेज एसडीएम सिटी राजेष साही ने 1 सितम्बर को कृशि उपज मंडी को पत्र लिखकर जवाब मांगा था।
मंडी प्रषासन ने एसडीएम सिटी कार्यालय को इस मामले से जुड़े दस्तावेज और न ही अब तक कोई जवाब दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here