अंतिम सफर पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, राष्ट्रपति-पीएम ने दी श्रद्धांजलि

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तीनों सेनाओं के प्रमुखों सहित कई गणमान्य व्यक्तियों ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अंतिम दर्शन किए और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। मुखर्जी का सोमवार की शाम सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में निधन हो गया। वह 84 वर्ष के थे। अस्पताल से पूर्व राष्ट्रपति के पार्थिव शरीर को आज उनके सरकारी निवास 10, राजाजी मार्ग लाया गया, जहां गणमान्य व्यक्तियों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुखर्जी का अंतिम संस्कार आज दोपहर दो बजे लोधी रोड श्मशान घाट में होगा।

गृह मंत्रालय ने पूर्व राष्ट्रपति की मौत पर जताया

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा, ‘केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया और अपनी संवेदनाएं व्यक्त कीं। कैबिनेट ने उनकी स्मृति में दो मिनट का मौन भी रखा।’

सबको साथ रखने की कला में प्रणब मुखर्जी को महारत थी : अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि पूरे देश के लिए गहरे दुख और सदमे की बात है कि भारत रत्न प्रणब मुखर्जी हम सबके बीच में नहीं रहे। सबको साथ रखने की कला में प्रणब मुखर्जी को महारत थी। जब सत्ता में थे तो विपक्ष के लोगों के साथ तालमेल बिठाने में वो हमेशा काम करते रहे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति बने तब राष्ट्रपति पद की गरिमा को भी बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। राष्ट्रपति भवन को आम आदमी के लिए खोलना ये उनका बहुत बड़ा फैसला था।पूर्व राष्ट्रपति को राहुल गांधी ने दी श्रद्धांजलि

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके आवास 10, राजाजी मार्ग पर श्रद्धांजलि दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here